Home / ताजा खबरे / अचानक से सारी खुशियाँ वापिस आ गयी

अचानक से सारी खुशियाँ वापिस आ गयी

जाको राखे  सांइया मा”र सके न कोई आपने ये कहावाट तो कईं बार सुनी होगी ! यानी जिसका रखवाला स्वयं भगवान् है उसका का’ल भी कुछ नहीं बिगाड़ सकता ! यही कहावत बिलकुल सच होती नज़र आई जब अचानक से एक मृ”त व्यक्ति के अन्दर जा”न वापिस आ गयी और वो उठ कर बैठ गया ! पूरी घटना जानने के लिए खबर को अंत तक पढ़े !

ऐसा ही कुछ पटना के कंकड़बाग के निजी अ’स्पताल में हुआ है !  अस्पताल में मृ”त घोषित सौरभ की (17 वर्ष ) अचानक घर पर सांसे चलने लगी ! परिजनों ने जल्दबाजी में युवक को PMCH में भर्ती कराया ! जन्हा युवक की स्थिति गम्भीर बनी हुयी है !सौरभ के परिवार वालो का कहना है कि सौरभ एक दुर्घटना में घायल हो गया था और 7 तारीख को रात 10 बजे कंकडबाग के अस्पताल में सौरभ को भर्ती कराया गया था ! निजी अस्पताल में दो दिन तक इलाज करने के बाद अस्पताल ने अपने हाथ खड़े कर दिए  और दो लाख का बिल चुकाने के लिए इनके हाथ  में थमा दिया ! सौरभ को वेंटीलेटर पर रखा गया था !

 

इसके बाद वेंटीलेटर हटा कर बॉडी को एम्बुलेंस में रख दिया गया ! परिजन युवक की बॉडी को घर ले आये ! हरदास विगहा  के कटौना गाँव में उनके घर पर दाह संस्कार की तैयारी की जा रही थी ! अर्थी को पूरा तरह तैयार कर दिया गया था ! युवक की माँ और परिजनों का रो -रो कर बुरा हाल होगया था ! अर्थी को जलाने के लिए कुछ समय बाद गंगा के किनारे घाट पर  ले जाया जाना था !

अचानक ही अर्थी पर पड़े हुए सौरभ की धडकन चलने लगी और हाथ की उंगलिया हिलने लगी ! सौरभ ने कुछ समय के लिए आंखे भी खोली ! ये सब देख कर रोना -धोना बंद होगया और मातम उत्साह में बदल गया ! जिसके बाद परिवार वाले सौरभ को PMCH में लेकर आये ! जन्हा सौरभ का एमरजेंसी में इलाज किया जा रहा है !

एमरजेंसी के डॉ. अभिजीत सिंह ने ने कहा सौरभ की पूरी कहानी सुन कर बहुत अजीब लगा ! जब उसे अस्पताल लाया गया तो सौरभ बेहोशी की हालत में था शरीर में हलचल थी सांसे भी चल रही थी ! डॉक्टरो की टीम उसको बचाने का पूरा प्रयास कर रही है ! उसका इलाज चल रहा है !

यदि आपको हमारी ये जानकारी  पसंद आई हो तो लाईक, शेयर व् कमेन्ट जरुर करें !

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *